भ्रष्टाचार पर भाषण- Speech on Corruption in Hindi

In this article, we are providing information about Corruption in Hindi. Speech on Corruption in Hindi Language- भ्रष्टाचार पर भाषण, स्पीच, Bhrashtachar Par Bhashan.

भ्रष्टाचार पर भाषण- Speech on Corruption in Hindi

माननीय अतिथि महोदय, आदरणीय प्रधानाचार्य जी, समस्त अध्यापक गण एवं मेरे प्यारे सहपाठियों को नमस्कार। मेरा नाम रवि है और मैं ग्यारवहीं कक्षा में पढ़ता हूँ। आज के इस भाषण सम्म्लन में मैं आप सब के सामने भ्रष्टाचार पर भाषण देना चाहता हूँ।

भ्रष्टाचार का अर्थ है जिसका आचरण भ्रष्ट हो या उसके आचरण में छल कपट हो। भ्रष्टाचार के अंतर्गत रिश्वत लेना और देना दोनों ही आते है। गैर कानूनन तरीके से धन कमाने को भ्रष्टाचार कहा जाता है। भ्रष्टाचार हमारे देश में निरंतर बढ़ती हुई समस्या है जो देश के विकास को दीमक की तरह खा रही है। भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने में जितना रिश्वत लेने वाला दोषी होता है उतना ही रिश्वत देने वाला भी होता है।

आज के समय में कोई भी काम अपने हित में करवाने के लिए रिश्वत का सहारा लिया जाता है। नौकरी के समय भी लोग रिश्वत देकर नौकरी हासिल करते है जबकि कुशल और योग्य होने के बावजूद भी बहुत से लोग बेरोजगार रह जाते है जिससे देश का सही विकास नहीं हो पाता है। भ्रष्टाचार की वजह से देश में काला धन बढ़ता है और काला धन आतंकवाद को बढ़ावा देता है। भ्रष्टाचार देश में उत्पन्न होने वाली सभा समस्याओं की जड़ है। हमारा देश स्वतंत्रता के बाद से ही राजनीतिक दलों और सरकारी संस्थानों के अधीन रहा है। समय के साथ काम करते करके सरकारी कार्यकर्ताओं का धन की तरफ लालच बढ़ जाता है और वह भ्रष्टाचार को जन्म देते है। वह नौकरी या कोई भी सरकारी कार्य जल्दी करवाने के लिए लोगों से रिश्वत लेते हैं। वह सरकार के द्वारा जनता के विकास के लिए दिए गए धन को भी अपने पास रख लेते हैं और हर सतर पर भ्रष्टाचार होने के कारण जन कल्याण के लिए धन बहुत ही कम पहुँचता है और देश का विकास नहीं होता है। भ्रष्टाचार देश का आर्थिक व्यवस्था के लिए बहुत ही नुकसानदायक है।

हमारे देश में अमीरी और गरीबी से ही देश में हो रहे भ्रष्टाचार के बारे में अंदाजा लगाया जा सकता है। भ्रष्टाचार के कारण ही अमीर और अमीर होता जा रहा है और गरीब और भी गरीब होता जा रहा है जिसकी वजह से देश का समान और संपूर्ण विकास नहीं हो पाता है। हम सब जब तक पूर्ण रूप से भ्रष्टाचार के प्रति जागरूक नहीं होंगे और जब तक देश से भ्रष्टाचार खत्म नहीं होगा तब तक देश में अपराध होते ही रहेंगे।

हम सबको भ्रष्टाचार को रोकने के लिए मिलकर प्रयास करने होगे और सरकार को भी इसके लिए सख्त से सख्त कानुन बनाने चाहिए और उनका सही से इस्तमाल करना चाहिए। भ्रष्टाचार को रोकने के लिए सरकार द्वारा भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम, 1988 लागु किया गया है। भ्रष्ट लोगों को पकड़वाने वालों को सरकार द्वारा पुरुस्कार दिया जाना चाहिए। जिस दिन हमारे देश से भ्रष्टाचार खत्म हो जाऐगा उस दिन न तो इस देश में कोई भूखा सोऐगा और न ही कोई बेरोजगार होगा। तब बनेगा हमारा भारत एक समृद्ध, सम्पन्न और खुशहाल देश। भ्रष्टाचार मुक्त देश जन जन की माँग है।

धन्यवाद।

# Corruption Speech in Hindi # Hindi speech on corruption

प्रदूषण पर भाषण- Speech on Pollution in Hindi

महिला सशक्तिकरण पर भाषण- Speech on Women Empowerment in Hindi

ध्यान दें– प्रिय दर्शकों Speech on Corruption in Hindi ( Article ) आपको अच्छा लगा तो जरूर शेयर करे

Leave a Comment

Your email address will not be published.