26 January Essay in Hindi- 26 जनवरी पर निबंध हिंदी में

In this article, we are providing 26 January Essay in Hindi 26 जनवरी पर निबंध | nibandh। Essay in 200, 300, 500 words For Class 7,8,9,10,11,12 Students. Speech on 26 January & Gantantra Diwas par Nibandh

26 January Essay in Hindi- 26 जनवरी पर निबंध हिंदी में

गणतंत्र दिवस पर निबंध हिंदी में- Republic Day Essay in Hindi

प्रस्तावना | उपसंहार

भारत में कई राष्ट्रीय त्योहार मनाए जाते हैं उनमें से एक प्रमुख त्योहार गणतंत्र दिवस है। जो कि हर साल 26 जनवरी को बड़ी उत्साह और गर्व से बनाया जाता है। इस त्यौहार को बनाने का प्रमुख कारण यह है कि इसी दिन हमारे देश में  संविधान की नींव रखी गई थी।अगर दूसरे शब्दों में कहें तो 26 जनवरी 1950 के दिन भारतीय संविधान को पूरे देश में लागू किया गया था, जिसकी वजह से प्रत्येक वर्ष गणतंत्र दिवस को मनाया जाता है।

गणतंत्र दिवस समारोह

गणतंत्र दिवस का अवसर भारत वर्ष के लोगों के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण दिन होता है। और लोग इसे अलग-अलग तरीके से बनाते हैं। इस पर्व को काफी भव्य तरीके से कई स्कूलों और कॉलेज के बच्चों के द्वारा भी बनाया जाता है। इस दिन बच्चों के बीच काफी प्रतियोगिता होती है जैसे कि नाटक, निबंध लेखन, भाषण और जो बच्चे इन सब में अब्बल आते हैं उन्हें पुरस्कार से सम्मानित किया जाता है।

इसके अलावा सरकारी संस्थानों में कई कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं और नई दिल्ली के राजपथ (इंडिया गेट) पर परेड का आयोजन किया जाता है जहां पर तीनों सेना वायु सेना, नौसेना, और भारतीय सेना अपनी हुनर का प्रदर्शन करते हैं। सेना के अलावा एन.सी.सी कैडेट्स और पुलिस बल भी अपनी कला को प्रदर्शित करती है और राष्ट्रपति को सलामी देती हैं।

देश के सभी राज्यों द्वारा अपनी झाँकियों के माध्यम से अपने संस्कृति और परंपरा की प्रस्तुति करते हैं। हर साल राजपथ पर होने वाली परेड और झांकी के दौरान एक विदेशी मेहमान भारत का खास अतिथि बनकर इंडिया आते है। भारत देश के पहले गणतंत्र दिवस के अवसर पर जोकि 1955 में किया गया था। उसमें इंडोनेशिया के राष्ट्रपति सुकर्णों खास अतिथि बनकर इंडिया में आए थे।

गणतंत्रता दिवस समाप्त हो जाने के 2 दिन बाद (29 January)  बीटिंग रीट्रिट का आयोजन किया जाता है। और साथ ही साथ राष्ट्रपति भवन को रंग बिरंगी लाइटों से भी सजाया जाता है। इस दिन सभी सरकारी संस्थानों में और साथ ही साथ स्कूल और कॉलेज में ये शपथ ली जाती है  कि ‘वो अपने देश के संविधान की सुरक्षा करेंगे, देश की शांति को बनाए रखेंगे, साथ ही देश के विकास में अपना पूरा सहयोग करेंगे’।

गणतंत्र दिवस का इतिहास

वैसे तो भारत 15 अगस्त 1947 को आजाद हो गया था। लेकिन इसे पूर्ण रूप से आजादी 26 जनवरी 1950 को मिली जब भारत का संविधान लागू किया गया था। जिसका निर्माण डॉ भीम राव अंबेडकर ने किया था। हमारे पूरे संविधान को बनाने में लगभग 2 साल 11 महीने और 18 दिन लगे थे। भारतीय सरकार द्वारा इसे पूरे देश में 26 जनवरी 1950 के दिन लागू किया गया। हमारे संविधान को 26 जनवरी के अवसर पर इसलिए लागू किया गया क्योंकि इसी दिन( 26 जनवरी 1930) में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने भारत को पूर्ण स्वराज घोषित किया था।

निष्कर्ष

गणतंत्र दिवस का पर्व हमारे लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है।

यह वह दिन है जो हमें हमारा संविधान के महत्व का अहसास कराता है और यह दिन हमारे देश के लिए एक ऐतिहासिक पर्व है इसलिए हमें पूरे  सम्मान के साथ इस पर्व को मनाना चाहिए और अपने भीतर देशभक्ति की भावना को जगाना चाहिए।

Essay on Republic day in Hindi

Essay on Independence day in Hindi

ध्यान दें– प्रिय दर्शकों 26 January Essay in Hindi आपको अच्छा लगा तो जरूर शेयर करे

Leave a Comment

Your email address will not be published.


Notice: ob_end_flush(): failed to send buffer of zlib output compression (0) in /home/hindikiguide/public_html/wp-includes/functions.php on line 5221