योगा पर भाषण- Speech on Yoga in Hindi

In this article, we are providing information about importance of Yoga in Hindi. Speech on Yoga in Hindi Language- योगा पर भाषण, स्पीच

योगा पर भाषण- Speech on Yoga in Hindi

माननीय अतिथि महोदय, आदरणीय प्रधानाचार्य जी, समस्त अध्यापक गण एवं मेरे प्यारे विद्यार्थियों को नमस्कार। मैं इस स्कूल का योगा शिक्षक हूँ और इस स्कूल में योगा क्लास को शुरू हुए एक साल पुरा हो चुका है और इस अवसर पर मैं आपके सामने योगा के विषय में जानकारी देना चाहता हूँ और आपको योगा के प्रति और भी जागरूक बनाना चाहता हूँ।

हम सब जानते है कि हमारे लिए हमारा स्वास्थय सबसे बड़कर है क्योंकि स्वास्थय ही मनुष्य का सबसे बड़ा धन है। हमें स्वस्थ रखने का सबसे सरल, सस्ता और सटीक उपाय योगा है। योग से मनुष्य शारीरिक और मानसिक दोनों ही रूप से स्वस्थ रहता है। योगा के अंदर बहुत से आसन और व्यायाम होते हैं जो हमें विभिन्न रोगों से बचाए रखते हैं। योगा हमें स्वस्थ रखने के लिए सबसे उत्तम उपाय है। हम बच्चों के साथ यहाँ पर प्रतिदिन बहुक सी योगा जैसे सूर्य नमस्कार, कपालभाती आदि करते हैं। पिछले एक साल में बहुत से बच्चों ने योगा में भाग लिया और नियमित रूप से योगा को किया है।

योगा एक ऐसी प्रक्रिया है जो स्वास्थय को बेहतर बनाने के लिए प्रयोग की जाती है। इससे हमारा स्वास्थय बेहतर रहता है, शरीर में फूर्ति आती है और शरीर में लचीलापन बढ़ जाता है। यह हमें एकाग्रचित होने में भी सहायता करता है और अध्यातमिकता को बढ़ाता है। यह व्यक्ति को सुंदर और बेडोल बनाए रखने में सहायक है। यदि योगा को ध्यान के साथ केंद्रित करके किता जाए तो हमारे ग्यान कौशल में वृद्धि होती है। योग करने से व्यक्ति का मन शांत रहता है और व्यक्ति प्रसन्न रहता है। योगा मन और मस्तिष्क को साथ लाने की प्रक्रिया है। इसे करने से ऊर्जा की प्राप्ती होती है और एकाग्रता शक्ति बढ़ती है।

योगा कोई नई कसरत नहीं है अपितु यह पिछले 5000 वर्षों से प्रचलन में है। इस समय इसके 100 से ज्यादा प्रकार ग्यात है जिनमें से कुछ कठिन है को कुछ सरल है। हम सरल योगा को करके बहुत से रोगों से मुक्ति प्राप्त कर सकते हैं। योग रोग को दुर भगाते हैं और हमें खुशहाल जीवन देते है। योगा हमें बेहतर जीवन देने में सहायक है और यह प्रक्रिया निरंतर चलती रहती है। जितना अधिक कोई व्यक्ति इसे अपने जीवन में उतारता है और इसकी गहराई में जाता है उतना ही अच्छा परिणाम उन्हें मिलता है। योगा करने वाला व्यक्ति हमेशा नकारात्मक विचारों से दुर रहता है और हर बात पर सकारात्मक सोचता है। योगा करने से मानसिक रोग भी दुर होते है।

योगा करने के लिए हमें केवल अपने और अपने स्वास्थय के लिए थोड़ा सा समय निकालने की आवश्यकता है। योगा हमारी दैनिक क्रियाओं को बेहतर बनाता है। हम रोज अपने आस पास बहुत से लोगों को योगा करते हुए देखते हैं और योगा के लिए बहुत से केंद्र भी खोले गए है। हम सबको भी अपने जीवन में योगा को अपनाना चाहिए और रोज सुबह योगा को करना चाहिए। आशा करता हूँ कि योगा से होने वाले लाभों के विषय में जानने को बाद आप सभी भी नियमित योगा का अभ्यास करेंगे।

धन्यवाद।

# yoga speech in Hindi

स्वामी विवेकानंद पर भाषण- Speech on Swami Vivekananda in Hindi

महात्मा गाँधी पर भाषण- Speech on Mahatma Gandhi in Hindi

महिला सशक्तिकरण पर भाषण- Speech on Women Empowerment in Hindi

ध्यान दें– प्रिय दर्शकों Speech on Yoga in Hindi ( Article ) आपको अच्छा लगा तो जरूर शेयर करे

Leave a Comment

Your email address will not be published.