Essay on Junk Food in Hindi- जंक फूड पर निबंध

In this article, we are providing information about Junk Food in Hindi- Short Essay on Junk Food in Hindi Language. जंक फूड पर निबंध- Hindi Essay writing on Junk Food.

Essay on Junk Food in Hindi- जंक फूड पर निबंध

जंक फूड का अर्थ- उस भोजन से है जो दिखने में तो आकर्षक होता है लेकिन स्वास्थय के लिए बिल्कुल भी अच्छा नहीं होता है। इसका प्रचलन विश्व में बढ़ता जा रहा है। जंक फूड के अंतर्गत पिज्जा बर्गर आदि आते हैं जो कि हमारे जीवन का एक अहम हिस्सा बन चुके हैं। पहले लोग कभी कबार ही बाहर जंक फूड खाने जाया करते थे लेकिन अब यह हमारी दिनचर्या का हिस्सा बन चुके हैं।

जंक फूड की बढ़ती खपत- जंक फूड का सबसे ज्यादा सेवन बच्चों और युवाओं के द्वारा किया जाता है क्योंकि वह पश्चिमी सभ्यता को अपनाने में अपनी शान समझते हैं। दुसरा जंक फूड उन्हें स्वादिष्ट लगते हैं और बहुत ही आकर्षक होते हैं।

जंक फूड- स्वस्थ जीवन के लिए हर वयक्ति को संतुलित आहार की जरूरत होती है जिसमें उचित मात्रा में प्रोटीन विटामिन और मिनरल हो। जंक फूड में प्रोटीन तत्व नहीं होते हैं जो कि स्वास्थय के लिए हानिकारक होता है।

जंक फूड के परिणाम- जंक फूड स्वास्थय के लिए बिल्कुल भी अच्छा नहीं है। इससे स्वास्थय पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। बढ़ते हुए जंक फूड की खपत के कारण लोगों में मोटापे की समस्या बढ़ती जा रही हैं। घर की तरह बाहर का भोजन साफ स्वच्छ नहीं होता है वह गली सड़ी सब्जियों से बनाया जाता है और उसे खाकर हम बिमार पड़ जाते हैं। इसमें कैलेस्ट्रोल की मात्रा बहुत ही ज्यादा होती है जिससे हृदय से जुड़े रोग हो जाते हैं।

जंक फूड से बचे- कभी कभी जंक फूड खाना ठीक है लेकिन हमें रोज इसका सेवन नहीं करना चाहिए। हमें चाहिए कि हम घर पर ही रंग बिरंगा और स्वादिष्ट भोजन बनाए। घर पर बने आलू के चिप्स आदि खाएँ और हो सके तो पिज्जा आदि बनाने के लिए ताजा सब्जियौं का प्रयोग करें।

निष्कर्ष- जंक फूड यानि की फास्ट जो कि बहुत ही प्रचलन में है। हमें इसका सेवन बहुत कम करना चाहिए। माता पिता को बच्चों को बचपन से ही अच्छे भोजन की आदत डालनी चाहिए। जंक फूड में ज्यादा पैसे भी खर्च होते हैं और साथ ही स्वास्थय को भी हानि होती है। हमें भी अपनी खाने की दिनचर्या बनानी चाहिए जिसमें हफ्ते में एक बार ही जंक फूड होना चाहिए। हमें संतुलित आहार लेना चाहिए क्योंकि जंक फूड सिर्फ मजबूरी में खाया जाता है जब हम कहीं बाहर हो। बाहर आते जाते समय भी हो सके तो घर से ही भोजन लेकर जाए और जंक फूड को छोड़कर शुद्ध भोजन अपनाए।

व्यायाम का महत्व पर निबंध- Essay on Importance of Exercise in Hindi

योग के महत्व पर निबंध- Essay on Importance of Yoga in Hindi

व्यायाम का महत्व पर निबंध- Essay on Importance of Exercise in Hindi

ध्यान दें– प्रिय दर्शकों Essay on Junk Food in Hindi (Article)आपको अच्छा लगा तो जरूर शेयर करे

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *