सर्वोत्तम हथियार- Akbar Birbal Story In hindi

सर्वोत्तम हथियार- Akbar Birbal Story In hindi

एक दिन बादशाह अकबर शस्त्रागार में अपने अस्त्र-शस्त्रों का निरीक्षण कर रहे थे। पड़ोसी राज्यों के हमले के खतरे के चलते उन्हें सुरक्षा की चिंता सता रही थी, जिस कारण से वे यह जान लेना चाहते थे कि उनके पास कितने अस्त्र-शस्त्र हैं। चलते-चलते उन्होंने अपने साथ चल रहे दरबारियों से पूछा, ‘जंग का सबसे बढ़िया हथियार कौन सा है?’

‘जहांपनाह, तलवार।’ एक ने कहा।

‘तीर और धनुष, आलमपनाह ।’ दूसरे दरबारी ने अपनी बुद्धि घुमाई।

‘बीरबल, क्या हुआ भई, तुम्हारे हिसाब से जंग या अपने बचाव के लिए सबसे बढ़िया हथियार क्या होता है?” बादशाह ने पूछा।

‘मैं समझता हूँ कि सबसे बेहतरीन हथियार वही है, जो वक्त पर तुरंत हाथ में आ जाए।’ बीरबल ने कहा। बीरबल के इस उत्तर पर सभी सोच में पड गए, क्योंकि इस उत्तर का अर्थ उनकी समझ में नहीं आया था।

‘तुम्हारी बात का क्या मतलब हुआ, बीरबल?” बादशाह ने भी पूछा।

‘इस तरह से बताना मुश्किल होगा, जहांपनाह,” बीरबल बोले, ‘किसी दिन सही मौका आने पर मैं अपनी बात का मतलब साफ कर दूँगा।’

कुछ दिनों बाद बादशाह अकबर बीरबल के साथ नगर भ्रमण के लिए निकले। पैदल

इधर-उधर भ्रमण करते हुए वे दोनों सामान्य नागरिकों जैसे जीवन का आनंद उठा रहे थे। उन दोनों ने वेष बदल रखा था ताकि लोग उन्हें पहचान न सकें। चलते-चलते अचानक उन्होंने सामने से एक बड़े कुते को आक्रमण की मुद्रा में अपनी ओर आते हुए देखा। संयोग से अकबर आगे व बीरबल पीछे चल रहे थे। कुत्ता इतना निकट आ चुका था कि पीछे मुड़कर भागना सम्भव नहीं था। वेष बदलकर तलवार भी छुपाए होने के कारण शीघ्रता से उसे निकालना भी सम्भव न हो सका। कुत्ता उछलकर आक्रमण करने ही वाला था कि तभी बीरबल ने शीघ्रता से किनारे पड़े एक पत्थर को उठाकर कुत्ते की ओर फेंक दिया। कुत्ता भय से पलटकर वहाँ से भाग गया। अब गली में उन दोनों के अतिरिक्त और कोई नहीं था।

अकबर अपने चेहरे से पसीना पोंछते हुए बोले, ‘बीरबल, यदि तुमने पत्थर फेंककर उसे भगाया न होता, तो उस पागल कुते ने तो हमारा काम तमाम कर ही दिया था।’ ‘जहांपनाह, अब आप ही बताइए कि सबसे बढ़िया हथियार कौन सा है? तलवार या पत्थर?’ बीरबल ने मुस्कुराते हुए पूछा।

‘अरे! यहाँ तो मुसीबत से बचने को तुरंत हाथ में आया पत्थर ही सबसे बढ़िया हथियार साबित हुआ है। तुमने सही कहा था, बीरबल, मुसीबत के वक्त जो हथियार काम आए, वही सबसे अच्छा होता है।’

ध्यान दें– प्रिय दर्शकों सर्वोत्तम हथियार Akbar Birbal story आपको अच्छी लगा तो जरूर शेयर करे

Leave a Comment

Your email address will not be published.