Monkey and Crocodile Story in Hindi | बन्दर और मगरमच्छ की कहानी

In this article, we are sharing a Moral story- Monkey and Crocodile Story in Hindi- Bandar aur Magarmach ki Kahani with Moral for students and Kids.

Monkey and Crocodile Story in Hindi

बन्दर और मगरमच्छ की कहानी

नदी के किनारे एक जामुन का पेड़ था। उस पर एक बंदर रहता था। वह रोज़ाना जामुन खाता था। नदी में रोजाना एक मगरमच्छ नहाने के लिए आता था। वह बंदर को जामुन खाते देखता और सोचता कि काश मैं भी जामुन खा पाता। उसने बंदर से मित्रता कर ली। वह और बंदर रोज़ाना खेलते, बंदर मगरमच्छ को खाने के लिए जामुन देता। मगरमच्छ की एक पत्नी भी थी। वह उसके लिए भी कुछ जामुन ले जाता।

एक दिन मगरमच्छ की पत्नी ने मगरमच्छ से कहा कि तुम्हारा मित्र बंदर जो रोज़ाना जामुन खाता है, वह कितने मीठे होते हैं। जामुन खाने के कारण उसका दिल भी बहुत मीठा होगा। मुझे तुम बंदर का दिल लाकर खाने को दो। मगरमच्छ ने बहुत मना किया पर उसकी पत्नी नहीं मानी।

निराश होकर, मगरमच्छ नदी के किनारे आया। उसने बंदर से कहा कि तुम्हारी भाभी तुमसे मिलना चाहती हैं। बंदर ने कहा ठीक है, मैं चलता हूँ। वह मगरमच्छ की पीठ पर बैठ गया। नदी के बीच में मगरमच्छ ने बंदर से कहा कि तुम्हारी भाभी तुम्हारा दिल खाना चाहती है। बंदर घबड़ा गया। लेकिन उसने बुद्धि से काम लिया। उसने मगरमच्छ से कहा कि यह पहले बताना चाहिए था, मैं तो अपना दिल पेड़ पर ही छोड़कर आया हूँ। तुम मुझे पेड़ के पास ले जाओ तो मैं अपना दिल ले आऊँ।

मूर्ख मगर बंदर को किनारे ले आया। बंदर उछलकर पेड़ पर चढ़ गया। फिर वह वापस नहीं आया। इस तरह बंदर ने मगरमच्छ से अपनी जान बचाई।

शिक्षा-मुसीबत में चतुराई से काम लेना चाहिए।

 

ध्यान दें– प्रिय दर्शकों Monkey and Crocodile Story in Hindi आपको अच्छा लगा तो जरूर शेयर करे। कमेंट में भी लिख कर बतायें Hindi Monkey and Crocodile story कैसी लगी। 

जरूर पढ़े-

शेर और चूहा हिंदी कहानी

दो मित्र और एक भालू की कहानी

Leave a Reply

Your email address will not be published.