Essay on Kabaddi in Hindi- मेरा प्रिय खेल कबड्डी पर निबंध

In this article, we are providing information about Kabaddi in Hindi- Essay on Kabaddi in Hindi. कबड्डी पर निबंध- Essay on my favourite game Kabaddi in Hindi, Mera Priya Khel Kabaddi.

Essay on Kabaddi in Hindi- मेरा प्रिय खेल कबड्डी पर निबंध

कबड्डी एक सस्ता, सरल और स्वास्थय वर्धक खेल है। इसके लिए किसी भी तरह के सामान की जरूरत नहीं है। पहले कबड्डी सिर्फ पंजाब में खेला जाता था लेकिन अब पूरे भारत के साथ साथ पड़ोसी देश नेपाल, पाकिस्तान, श्रीलंका आदि में भी खेला जाता है। इसको भारत के अलग अलग हिस्से में अलग अलग नाम से खेला जाता है। यह लगभग 4000 साल पुराना खेल है जिसका जिकर महाभारत में भी किया गया है।कबड्डी के खेल के लिए ताकत और समझदारी दोनों की जरूरत होती है।

कबड्डी के खेल में दो टीमें होती है और दोनों में ही 7-7 सदस्य होते हैं। क्बड्डी के मैदान का माप लगभग 13 मीटर गुणा 10 मीटर होता है। इस मैदान के बीचों बीच लाईन खींची जाती है और मैदान को दो हिस्सों में बाँट दिया जाता है जिसे पाला कहते हैं। मैदान में प्रवेश करने के बाद टॉस किया जाता है और जितने वाली टीम को दुसरे पाले में जाकर खिलाड़ी को हाथ लगाकर वापिस आना होता है। जो व्यक्ति दुसरे पाले में जाता है उसे रेडर कहते हैं और जो खिलाड़ी उसे पकड़ने का प्रयास करते हैं उन्हें स्टापर कहते हैं। अगर खिलाड़ी दुसरे पाले में जाकर वहाँ के किसी खिलाड़ी को छू कर वापिस आता है तो उसे अंक मिलता है और जिस खिलाड़ी को उसने छुआ है वह कुछ देर के लिए मैदान से बाहर हो जाता है। यदि दुसरे पाले के खिलाड़ी रेडर को पकड़ लेते है तो उन्हें अंक मिलता है और पकड़ा जाने वाला व्यक्ति कुछ देर के लिए मैदान से बाहर हो जाता है। क्बड्डी का खेल 20-20 मिनट के दो दौर में खेला जाता है और बीच में पाँच मिनट का ब्रेक लिया जाता है जिसमें दोनों टीमों के पाले बदले जाते हैं।

कबड्डी बांग्लादेश का राष्ट्रीय खेल है। कबड्डी को अब एशियाई खेलों में भी सम्मलित किया गया है जिसकी वजह से वह विदेशों में भी प्रिय खेल बन गया है। कबड्डी के बहुत से खेल खेले जाते है जो कि वजन पर आधारित है। कबड्डी प्रो लीग जैसे कई अलग अलग तरह के खेल खेले जाते हैं। 2004 से कबड्डी का विश्व कप भी खेला जा रहा है और अब तक के सभी विश्व कप में भारत ने जीत हासिल की है।

आजकल महिलाएँ भी कबड्डी में बड़ चड़ कर भाग से रही है। महिलाओं का पहला विश्व कप पंजाब में 2012 में खेला गया था। कबड्डी का खेल फुर्ती का खेल है। यह चालाकी और शारिरिक बल का सामंजस्य है।

#Kabaddi Essay in Hindi

Essay on Hockey in Hindi- हॉकी पर निबंध

क्रिकेट पर निबंध- Essay on Cricket in Hindi

Essay on Badminton in Hindi- बैडमिंटन पर निबंध

ध्यान दें– प्रिय दर्शकों Essay on Kabaddi in Hindi आपको अच्छा लगा तो जरूर शेयर करे

Loading...

One comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *