प्राकृतिक आपदा पर निबंध- Essay on Disaster Management in Hindi

In this article, we are providing information about Disaster Management in Hindi- Essay on Disaster Management in Hindi Language. प्राकृतिक आपदा पर निबंध- Aapda Prabandhan Essay in Hindi.

प्राकृतिक आपदा पर निबंध- Essay on Disaster Management in Hindi

पृथ्वी में भौतिक और रासायनिक तत्वों में बदलाव होने के कारण बहुत सी आपदाएँ आती है। भूकंप, बाढ़, ज्वालामुखी फटने आदि जैसी बहुत सी आपदाएँ है जिससे जान और माल की हानि होती है। इन घटनाओं का पहले अंदाजा नहीं लगाया जा सकता है लेकिन बहुत सी सावधानी बरत कर इनके प्रभाव को कम किया जा सकता है। आपदा प्रबंधन का अर्थ है आपदा से निपटने का तरीका निकालना। आपदा प्रबंधन के अंतर्गत आपदा की चेतावनी से लेकर उसके आने से पहले की तैयारी और आपदा आने के पश्चात लोगों को आवास स्थान और खान पान आदि उपलब्ध कराना आता है।

आपदा प्रबंधन का सबसे पहला चरण खतरे की पहचान करना है। उसके बाद आने वाले खतरे को कम करना आता है और लोगों तक चेतावनी देकर उन्हें सजग करना होता है। आपदा का प्रबंध करने के लिए अलग अलग स्तर पर आपदा प्रबंधक के संगठन बनाए गए है। केंद्रीय स्तर पर , राज्य स्तर पर और जिला स्तर पर आपदा प्रबंधक बनाए गए है। आपदा प्रबंधन के सबसे मुख्य स्त्रोत संचार के माध्यम है। लोग भी आपदा प्रबंधन में एक अहम भूमिका निभा सकते हैं। लोगों को संचार माध्यम से जुड़े रहना चाहिए और आने वाली आपदाओं के बारे में सजग रहना चाहिए। भूकंप आने पर लोगों तो घरों से बाहर निकल जाना चाहिए और घरों को खाली कर देना चाहिए।

बहुत सी आपदा जासे कि बाढ़ आदि के समय भी लोगों को बदलती जलवायु का ध्यान रखना चाहिए और आने वाली परिस्थिति का सामना करने के लिए तैयार रहना चाहिए। लोगों को आपदा के प्रबंध में प्राथमिक चिकित्सा का प्रबंध करके रखना चाहिए। आपदा प्रबंधन के अंतर्गत लोग खतरे वाले क्षेत्रों का अध्ययन करते हैं और वहाँ पर सुरक्षा का इंतजाम करते हैं जिसे कि आपदा से पुर्ण कालिक प्रबंध कहते हैं। जब कोई क्षेत्र दुर्घटना ग्रस्त हो जाता है तो वहाँ पर दोबारा से जीवन वहीं के लोगों को बसाना होता है। पीड़ा ग्रस्त क्षेत्र के लोगों को आवास स्थान और खाद्य पदार्थ उपलब्ध कराना आपदा प्रबंधन के लोगो का प्रमुख कार्य है। लोगों को बदलती जलवायु से भी आने वाली आपदा का पता लगा लेना चाहिए। लोगों को खुद से भी आपदा के प्रबंध करके रखने चाहिए। संचार माध्यम से आपदा का पता लगते ही सभी आस पड़ोस के लोगों को जागरूक कर देना चाहिए। सरकार द्वारा बनाई गई आपदा प्रबंधन समीति के साथ साथ लोगों को भी ध्यान देना चाहिए। बच्चों को घर और स्कूल में आपदा के समय किए जाने वाले जरूरी प्रबंधो के विषय में बताया जाना चाहिए।

Essay on Earthquake in Hindi- भूकंप पर निबंध

सूखा या अकाल पर निबंध- Essay on Drought in Hindi

Essay on Tsunami in Hindi- सुनामी पर निबंध

ध्यान दें– प्रिय दर्शकों Essay on Disaster Management in Hindi आपको अच्छा लगा तो जरूर शेयर करे

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *