काल और काल के भेद- Kaal in Hindi Grammar | Kaal Ke Bhed

In this article, we are providing information about Kaal in Hindi – Vachan ke bhed | Kaal in Hindi Grammar Language. काल की परिभाषा और भेद उदाहरण सहित, Tenses in Hindi | Hindi Grammar Tenses

काल और काल के भेद- Kaal in Hindi Grammar | Kaal Ke Bhed

काल की परिभाषा ( Meaning of Kaal in Hindi )

काल क्रिया के उस रूपान्तरण को कहते हैं जिससे कार्य-व्यापार का समय और उसके पूर्ण अथवा अपूर्ण अवस्था का बोध हो।

जैसे- राम खाता है।

राम जायेगा। मोहन ने खाया।

काल के भेद ( Kaal Ke Bhed )

क्रिया के मुख्यतः तीन काल हैं :-

(1) वर्तमान काल

(2) भूतकाल

(3) भविष्यत् काल

(1) वर्तमान काल :- ‘वर्तमान काल में क्रिया से कार्य होने का बोध होता है अर्थात् इसमें क्रिया के व्यापार की निरन्तरता का स्पष्टीकरण होता है।

जैसे- ‘वह पढ़ता है।’ –

इस वाक्य में पढ़ने की क्रिया हो रही है।

वर्तमान काल के भेद

(क) सामान्य वर्तमान

(ख) अपूर्ण वर्तमान/तात्कालिक वर्तमान

(ग) पूर्ण वर्तमान

(घ) संभाव्य वर्तमान

(क) सामान्य वर्तमान :- सामान्य वर्तमान उसे कहते हैं जिसमें क्रिया का वर्तमान काल में होना जाना जाता है।

जैसे- मोहन जाता है।

राम पढ़ता है।

गीता देखती है।

(ख) अपूर्ण वर्तमान :- इसका दूसरा नाम तात्कालिक वर्तमान भी है। अपूर्ण वर्तमान मेंइस बात का बोध होता है कि क्रिया वर्तमान काल में जारी है।

जैसे- मैं पत्र लिख रहा हूँ।

सुरेश गाना गा रहा है।

(ग) पूर्ण वर्तमान :- इस काल से यह ज्ञात होता है कि क्रिया वर्तमान काल में सम्पन्न हो चुकी है।

जैसे- राम गया है।

रमेश ने रोटी खायी है।

(घ) संभाव्य वर्तमान :- इस काल में कार्य के पूर्ण होने की संभावना रहती है।

जैसे- राम खाया हो।

वह सोया हो।

(2) भूतकाल :- भूतकाल का अर्थ है- बीता हुआ समय अर्थात् क्रिया के जिस रूपान्तरण से कार्य के समापन का बोध हो, उसे भूतकाल की क्रिया कहते हैं। जैसे- राम खा चुका था। वह सोया था। सीता ने गाया।

भूतकाल के भेद

भूतकाल के छः भेद हैं-

(क) सामान्य भूत

(घ) अपूर्ण भूत

(ख) आसन्न भूत

(ङ) संदिग्ध भूत

(ग) पूर्ण भूत

(च) हेतु हेतु मद् भूत ।

(क) सामान्य भूत :- इस काल की क्रिया से यह ज्ञात होता है कि कार्य स्वाभाविक रीति से हुआ अर्थात् क्रिया के विशेष समय का बोध नहीं होता।

जैसे- राम ने पत्र लिखा।

मोहन गया।

(ख) आसन्न भूत :- इस बात के द्वारा यह ज्ञात होता है कि क्रिया की समाप्ति निकट भूत में तत्काल हुई।

जैसे- राम पत्र लिख चुका है।

वह अभी आया था।

(ग) पूर्ण भूत :- पूर्ण भूत की क्रिया से यह स्पष्ट पता चलता है कि क्रिया की समाप्ति सुदूर भूत में ही हो चुकी है अर्थात् क्रिया के सम्पादित होने के समय का स्पष्ट ज्ञान होता है।

जैसे- राम ने रावण को मारा था।

आशा ने गीत गाया था।

(घ) अपूर्ण भूत :- इस काल की क्रिया से यह ज्ञात होता है कि भूतकाल में कार्य निरन्तर जारी था।

जैसे- रमेश पुस्तक पढ़ रहा था।

सुरेश खाना खा रहा था।

(ङ) संदिग्ध भूत :- संदिग्ध भूत में इस बात का सन्देह बना रहता है कि कार्य समाप्त हुआ या नहीं।

जैसे- तुमने लिखा होगा।

उसने चुराया होगा।

(च) हेतु हेतु मद् भूत :- इस काल में यह पता चलता है कि यद्यपि क्रिया का समापन भूतकाल में होना था। परन्तु किसी कारणवश नहीं हो सका। दूसरे शब्दों में हम कह सकते हैं कि इस काल में कार्य के होने की शर्त लगी रहती है अर्थात् एक क्रिया की सिद्धि में दूसरी क्रिया शर्त बनकर प्रयुक्त होती है।

जैसे- यदि तुम पढ़ते तो परीक्षा पास करते।

यदि वर्षा होती तो पैदावार अच्छी होती।

(3) भविष्यत् काल :- वह क्रिया जो भविष्य में होनी है, उसे भविष्यत् काल की क्रिया कहा जाता है।

जैसे- वह खाएगा।

वह नौकरी करेगा।

रमेश व्यापार करेगा।

भविष्यत् काल के भेद

(क) सामान्य भविष्यत्

(ख) हेतु हेतु मद् भविष्यत्

(ग) सम्भाव्य भविष्यत्

(क) सामान्य भविष्यत् :- इस काल की क्रिया से यह पता चलता है कि कार्य स्वाभाविक रीति से भविष्य में पूरा होगा।

जैसे- मैं लिखेंगा।

वह गाँव जायेगा।

(ख) हेतु हेतु मद् भविष्यत् :- इस काल की क्रिया से यह प्रकट होता है कि भविष्य में एक क्रिया का होना दूसरी क्रिया पर निर्भर करता है।

जैसे- अध्यापक आएं तो पढ़ाएं।

विद्यार्थी पढ़े तो परीक्षा उर्तीण करे।

(ग) संभाव्य भविष्यत् :- इस काल की क्रिया से भविष्यत् काल में कार्य के होने की संभावना का बोध होता है।

जैसे- सम्भव है, वह पत्र लिखे।

सम्भवतः वह कल आए।

# Hindi Grammar Kaal Examples 

वाच्य और वाच्य के भेद- Vachya in Hindi | Vachya ke bhed

Hindi Muhavare with Meanings and Sentences | हिंदी मुहावरे और अर्थ

Vilom Shabd (विलोम शब्द) Antonyms in Hindi

ध्यान दें– प्रिय दर्शकों Kaal in Hindi Grammar | Kaal Ke Bhed ( Article ) आपको अच्छा लगा तो जरूर शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *