Essays on Delhi Metro Rail in Hindi- दिल्ली मेट्रो रेल पर निबंध

In this article, we are providing Essays on Delhi Metro Rail in Hindi. ( Metro Train Essay/Nibandh ) दिल्ली मेट्रो रेल पर निबंध- मेट्रो रेल के लाभ

Essays on Delhi Metro Rail in Hindi- दिल्ली मेट्रो रेल पर निबंध

 

दिल्ली में सड़क यातायात की परेशानियों से निबटने के लिए मेट्रो का सूत्रपात हुआ। मेट्रो सर्वप्रथम शाहदरा से तीस हजारी कोर्ट के बीच शुरू की गई। आधुनिक तकनीकों से सुसज्जित यह रेल ज़मीनी यातायात का तीव्रतम साधन है। इस रेल की व्यवस्था का काम बहुत ही कठिन था। परंतु सुनियोजित ढंग से इसकी परियोजना बनाई गई और आज यह दिल्ली के महत्त्वपूर्ण इलाकों को एक-दूसरे से जोड़ रही है। इसकी सफलता को देखते हुए इसे पूरी दिल्ली तथा दिल्ली के आस-पास के इलाकों में चलाने की की परियोजना का कार्य भी चल रहा है।

मेट्रो की संकल्पना जापान की मेट्रो ट्रेन से अभिभूत है। जापान की तकनीक एवं भारतीय इंजीनियर के कठिन परिश्रम से दिल्ली वासी मेट्रो रेल का लाभ प्राप्त कर सके। इसके कोच कोरिया से आयातित हैं। मुंबई में लोकल रेलों की व्यवस्था है जिससे वहाँ यातायात की समस्या को कुछ हद तक दूर किया गया। यही व्यवस्था दिल्ली में मेट्रो रेल के माध्यम में अपनाई गई है। मेट्रो रेल की यात्रा के अनेक लाभ हैं। पूरी तरह से वातानुकूलित डिब्बे, बैठने एवं खड़े होने की पर्याप्त व्यवस्था, समय-समय पर सूचना देते तंत्र, औसतन छह मिनट के अंतराल पर उपलब्ध सेवा, शहर के जाम से मुक्ति, सस्ती टिकट-सेवा, रोजाना यात्रा करने वालों को पास सेवा, साफ-सुथरे प्लेटफार्म, विकलांगों, रोगियों तथा वृद्धों के लिए प्लेटफार्म पर लिफ्ट एवं एस्केलेटर की सुविधा, वरिष्ठ नागरिकों, विकलांगों एवं महिलाओं के लिए डिब्बे में आरक्षित स्थान, स्वचालित दरवाजे, जिनमें आने-जाने के लिए उपयुक्त जगह है। प्रदूषण रहित, दुर्घटनाओं से रहित, अत्याधुनिक प्रणाली से सुसज्जित, स्वचालित टिकट वितरण प्रणाली आदि अनेक लाभ मेट्रो रेल से हुए हैं।

इसने यात्रा को न केवल आरामदायक बनाया बल्कि यह लोगों के यात्रा करने के तरीके में बहुत बदलाव लाई है। यात्री अब अपने निजी वाहन की अपेक्षा मेट्रो रेल के विकल्प को ही अधिक चुनने लगे हैं। इसका सबसे बड़ा लाभ यह है कि सड़कों पर लगने वाले घंटों जाम की वजह से यथा स्थान पहुँचने में जो देरी होती थी, वह अब नहीं होती। सड़क के दो घंटे के सफर को मेट्रो मात्र पैंतालीस मिनट में ही तय कर लेती है। महानगरीय जीवन में जहाँ रोजमर्रा के जीवन में इतनी भाग-दौड़ है कि व्यक्ति के पास पर्याप्त समय ही नहीं है ऐसे में मेट्रो रेल की सेवा उनके लिए एक सुखद सपने के समान है। सस्ती टिकट दरें एवं आरामदायक, सुविधाजनक यात्रा वास्तव में महानगरी जीवन को एक नईरफ़्तार देती है।

भारत की राजधानी दिल्ली पर निबंध

ध्यान दें– प्रिय दर्शकों Essays on Delhi Metro Rail in Hindi आपको अच्छा लगा तो जरूर शेयर करे

Leave a Comment

Your email address will not be published.