कुतुब मीनार पर निबंध- Essay on Qutub Minar in Hindi

In this article, we are providing information about Qutub Minar in Hindi- Essay on Qutub Minar in Hindi Language. कुतुब मीनार पर निबंध- History of Qutub Minar in Hindi.

कुतुब मीनार पर निबंध- Essay on Qutub Minar in Hindi

भारत में बहुत सी अद्भुत ईमारते हैं जिनमें से एक कुतुब मिनार है। कुतुब मिनार भारत की राजधानी दिल्ली के दक्षिण में महरौली भाग में स्थित है। यह ईंटों से बनी हुई विश्व की सबसे ऊँची मिनार है। इसकी लंबाई 72.5 मीटर है और इसका व्यास 14.3 मीटर है जो कि शिखर तक जाते जाते 2.75 मीटर रह जाता है। इसके पास बने घेरे पर बहुत सी कलाकृतियाँ बनी हुई है।

सन् 1193 में कुतुब मिनार का निर्माण मुगल शासक कुतुबदिन ऐबक ने शुरू करवाया था लेकिन वो इसकी प्रथम मंजिल ही बनवा पाया था। इसके बाद उनके उतराधिकारी इल्तुतमिश ने तीसरी मंजील तक इसका निर्माण करवाया था। बाद में 1368 में फिरोजशाह ने इसकी पाँचवी और आखिरी मंजिल का निर्माण करवाया था। 1508 में आए भुकंप से कुतुब मिनार को नुकसान पहुँचा था तब सिकंदर लोदी ने उसकी मरम्मत कराई थी। यह ईमारत जाम की मिनार से प्रेरित होकर बनाई गई थी और उससे आगे निकलने की इच्छा में बनाई गई थी।

कुतुब मिनार के अंदर 379 सीढ़ियाँ है। इसे लाल बलुआ पत्थर से बनाया गया है। कहा जाता है कि कुतुब मिनार को बनाने के लिए पत्थर को 27 मंदिर तोड़कर प्राप्त किया गया था। इसके पत्थर पर कुरान की आयतें लिखी हुई है। माना जाता है कि इसके मश्जिद की मिनार के रूप में प्रयोग किया गया था और वहीं से आजान दी जाती थी लेकिन कुतुब मिनार कै शिखर पर खड़ा होकर यदि कोई व्यक्ति अपनी पूरी ताकत लगाकर भी चिल्लाए तब भी उसकी आवाज कोई नहीं सुन सकता है। इसी के पास एक लौर स्तंभ भी है जो कि चंद्रगुप्त द्वितीय द्वारा बनवाया गया था और उसपर विष्णु ध्वजा है। युनेश्को द्वारा कुतुब मिनार को विश्व धरोहर के रूप में स्वीकार किया गया है। कुतुब मिनार की चौथी और पाँचवी मिनार संगमरमर और लाल बलुआ पत्थर की बनी हुई है। हर मंजिल के सामने एक बॉल्कनी बनी हुई है।

हिंदु पक्ष का मानना है कि वरामिहिर जो कि चंद्रगुप्त विक्रमादित्य के नौ रत्नों में से एक थे उन्होंने इसका निर्माण करवाया था और इसका नाम विष्णु ध्वज था। कुतुब मिनार समय के साथ टेढ़ी हो चुकी है। कुतुब मिनार में कला को देखा जा सकता है। इसे देखने देश विदेशों से लोग आते हैं। कुतूब मिनार ऐसा पहला मकबरा है जो किसी मुगल शासक द्वारा अपने जीवित रहते बनवाया गया था।

#Qutub Minar Essay in Hindi

लाल किला पर निबंध- Essay on Red Fort in Hindi

ताजमहल पर निबंध- Essay on Taj Mahal in Hindi

ध्यान दें– प्रिय दर्शकों Essay on Qutub Minar in Hindi आपको अच्छा लगा तो जरूर शेयर करे

Leave a Comment

Your email address will not be published.