मज़दूर दिवस पर निबंध- Essay on Labour Day in Hindi

In this article, we are providing Information about May Day / Labour Day in Hindi- Essay on Labour Day in Hindi Language. मज़दूर दिवस पर निबंध May Day in Hindi Short Essay.

मज़दूर दिवस पर निबंध- Essay on Labour Day in Hindi

मजदुर किसी भी देश की बहुत बड़ी जनसंख्या का निर्माण करते है जिसे कि नजर अंदाज नहीं किया जा सकता है। मजदुरों के बिना किसी भी देश का विकास नहीं किया जा सकता है और न हीं कोई उद्योग कार्य कर सकता है। मजदुरों के बिना देश अपाहिज सा ही है। मजदुर दिवस को श्रमिक दिवस और मई डे के नाम से भी जाना जाता है। यह ज्यादातर 1 मई को मनाया जाता है। इसकी शुरूआत अमेरिका के शिकागो की हेय मार्केट से हुई 1 मई, 1886 से हुई थी। वहाँ के मजदुरों ने कार्य करने के सीमा 10-12 घंटे तक हटाकर 8 घंटे करने के लिए हड़ताल की थी। उस दिन पुलिस द्वारा चलाई गई गोलियों से सात लोगों की मौत हुई। लेकिन अंत में मजदुरों की माँग मान ली गई थी।

1923 में भारत में मजदुर दिवस पहली बार चैन्नई में मनाया गया था। इसे मेरठ दिवस के रूप में भी मनाया जाता है। मजदुर दिवस के दिन 80 देशों में राष्ट्रीय छुट्टी होती है। महाराष्ट्र में मजदुर दिवस बहुत धुमधाम से मनाया जाता है और इस दिन वहाँ पर सभी मजदुरों की छुट्टी होती है। महाराष्ट्र में मजदुर दिवस महाराष्ट्र दिवस के रूप में मनाया जाता है। हरियाणा में विश्कर्मा दिवस के दिन ही मजदुर दिवस को मनाया जाता है।

मजदुर के बिना कोई भी कार्य नहीं किया जा सकता है। घर से लेकर उद्योग तक के निर्माण के लिए मजदुर आवश्यक है। वह दिन रात कठिन परिश्रम करके अपने परिवार का पालन पोषण करते हैं। उन्हें भी परिवार के साथ समय व्यतीत करने के लिए सप्ताह में एक अवकाश अवश्य मिलना चाहिए। सरकार को चाहिए कि उनके अधिकारों का शोषण न होने दें। मजदुरों की काम करने की अवधि आठ घंटे है और कोई भी उद्योगपति उनसे इससे ज्यादा कार्य नहीं करवा सकता है। मजदुर जहाँ कार्य करते है वहाँ उनका बीमा और मैडिकल होना चाहिए ।

मजदुर दिवस को मनाने का हर देश का अपना अलग तरीका है लेकिन सबका उद्धेश्य एक ही है कि मजदपरों को उनके अधिकार के प्रति जागरूक करना है और उन्हें पूर्ण सम्मान दिलाना है। मजदुर दिवस को एक उत्सव की तरह बड़े हर्ष और उल्लास के साथ मनाया जाना चाहिए। इस दिन मजदुरों की युनियन को मिलकर अपने हक के लिए फैसले लेने चाहिए। मजदुर हर देश में रहते है तो इसलिए यह दिवस केवल एक देश में हीं मनाया जाता अपितु अलग अलग दिन अलग अलग देश में मनाया जाता है।

#Labour Day Essay in Hindi

ध्यान दें– प्रिय दर्शकों Essay on Labour Day in Hindi आपको अच्छा लगा तो जरूर शेयर करे

Leave a Comment

Your email address will not be published.


Notice: ob_end_flush(): failed to send buffer of zlib output compression (0) in /home/hindikiguide/public_html/wp-includes/functions.php on line 5219