बाघ पर निबंध- Essay on Tiger in Hindi

In this article, we are providing information about Tiger in Hindi Language- Essay on Tiger in Hindi- बाघ पर निबंध। Lines on Tiger in Hindi. Tiger Essay in Hindi.

बाघ पर निबंध- Essay on Tiger in Hindi

भारत का राष्ट्रीय पशु बाघ है जो कि एक मांसाहारी जीव है। यह भारत के सभी जंगलों में पाया जाता है। यह भारत,इंडोनेशिया आदि देशों में पाया जाता है। बाघ बहुत ही ताकतवर और हिंसक होते है। बाघ को खुले जंगलो में दलदल में और पानी में रहना बहुत पसंद होता है। इन्हें चिड़ियाघर में भी देखा जा सकता है।

बाघ पीले रंग का होता है और उसके शरीर पर काले रंग की धारियाँ होती है और पेट सफेद रंग का होता है। हर बाघ के शरीर पर अलग अलग धारियाँ होती है जिसके कारण वो खुद को झाड़ियों में छुपा सकता है। नर बाघ का वजन लगभग 300 किलो होता है और मादा बाघ का वजन लगभग 220 किलो होता है। बाघ को पानी में रहना पसंद होता है इसलिए वो अच्छे तैराक होते है। बाघ को अकेले में रहना पसंद होता है इसलिए वो मादा बाघ से भी सिर्फ प्रजन्न के दौरान ही मिलता है। मादा बाघ की गर्भावस्था 115 से 120 दिन होती है। वह एक समय में 2से 6 बच्चों को जन्म देती है। बाघ को अपनी जगह से बहुत प्यार करता है वह घुम फिर कर वहीं पर वापिस आ जाता है। बाघ बड़े बड़े जानवरों का शिकार करता है जैसे कि भैंसा,हिरण,जिराफ़ आदि। बाघ इतने ताकतवर होते है कि वो मूहँ में गाय और भैंस को दबाकर ऊँची ऊँची झाड़ियाँ आसानी से कूद सकता है। बाघ की दहाड़ 3 किलोमीटर तक सुनाई देती है। बाघ बूढ़े होने पर मनुष्य को खाना शुरू कर देते है। बाघ की सुनने की और देखने की शक्ति बहुत ही ज्यादा होती है लेकिन जब बाघ के बच्चे पैदा होते है तो वो 14 दिन तक अंधे होते है और पूरी तरह से अपने माँ बाप पर ही निर्भर होता है।

जंगलों की कटाई के कारण और बाघ की खाल के कारण उनके शिकार से बाघ की प्रजातियाँ लुप्त होती जा रही है। पहले भारत में बाघ की 8 प्रजातियाँ पाई जाती थी और अब सिर्फ 3 रह गई है।

बाघों की सुरक्षा के लिए सरकार ने टाईगर रिजर्व सैन्चुरी बनाई है जिसमें उन्हें प्रकृति जैसा वातावरण दिया जाता है। सरकार ने शिकार पर भी प्रतिबंध लगाया है ताकि बाघ की प्रजाति को लुप्त होने से रोका जा सके। मनुष्य को भी जंगलों को नहीं काटना चाहिए क्योंकि वो बहुत से पशुओं का घर है और अगर तुम उनसे उनका घर छिनोगे तो वो तुम्हारे जीवन में ही बाधा लाऐंगे और मीनव भक्षी बन जाऐंगे।

#Tiger Information in Hindi

शेर पर निबंध- Essay on Lion in Hindi

राष्ट्रीय पक्षी मोर पर निबंध- Essay on Peacock in Hindi

ध्यान दें– प्रिय दर्शकों Essay on Tiger in Hindi आपको अच्छा लगा तो जरूर शेयर करे

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *