My Ambition | Meri Abhilasha Essay in Hindi- मेरी अभिलाषा पर निबंध

In this article, we are providing information about My Ambition in Hindi- Meri Abhilasha Essay in Hindi Language, My Ambition Essay in Hindi for students classes 5,6,7,8,9,10,11,12 in 200,300 words.

Meri Abhilasha Essay in Hindi

मेरी अभिलाषा पर निबंध

मनुष्य इच्छाओं का पुतला है। मनुष्य के मन में समुद्र की लहरों की तरह इच्छाएँ उठती रहती हैं। कोई मनुष्य डाक्टर बनना चाहता है तो कोई अभियंता, कोई सैनिक बनना चाहता है तो कोई वायुयान-चालक। अपनी इस अभिलाषा की पूर्ति के लिए मानव सदा प्रयत्न करता रहता है। अपने अथक प्रयास के द्वारा जब वह मंजिल तक पहुँच जाता है तो उसे एक सुख की अनुभूति होती है।

मेरे पिताजी चाहते हैं कि मैं बड़ा होकर चिकित्सक बनूँ। मेरी माँ चाहती हैं कि मैं एक अभियंता बनूँ। मेरी बहन की इच्छा है कि मैं बड़ा होकर एक वायुयान-चालक बनूँ और संसार के देशों की सैर करूँ । परन्तु मेरी हार्दिक इच्छा एक आदर्श अध्यापक बनने की है।

चिकित्सक और अभियंता बनने के लिए गणित और विज्ञान में विशेष रुचि होनी चाहिए। ये दोनों विषय मुझे बहुत अच्छे नहीं लगते। वायुयान चालक बनकर मैं देश तथा समाज की वह सेवा नहीं कर पाऊँगा जो एक अध्यापक बनकर कर सकता हूँ।

एक अध्यापक राष्ट्र-निर्माता होता है। वह देश को बनाने वाले युवकों और युवतियों को उनके कर्तव्य और अधिकारों के बारे में ज्ञान कराता है। वह उनके अन्दर गुण भर के एक आदर्श नागरिक बनाता है। उसके विद्यार्थी बड़े होकर महात्मा गाँधी, जवाहरलाल नेहरू, सुभाषचन्द्र बोस आदि बनकर देश को महान बनाते हैं। गुरु विद्या का प्रकाश-स्तम्भ होता है, जो शिष्यों के अज्ञान को दूर करता है।

मैं यह अच्छी तरह जानता हूँ कि अपनी इस अभिलाषा को पूरा करने के लिए मुझे सतत् प्रयास द्वारा विद्या रूपी अमूल्य धन प्राप्त करना होगा। इसके लिए मुझे तप और त्याग का जीवन व्यतीत करना होगा। मुझे किसी . एक विषय का पंडित होना पड़ेगा। अध्यापक बनने के लिए प्रशिक्षण परमावश्यक है। प्रशिक्षण लेने के बाद मुझे अपने अन्दर कुछ ऐसे गुण लाने होंगे जिनसे मैं एक आदर्श अध्यापक बन सकूँ। तभी तो छात्र मेरे गुणों का अनुकरण करके आदर्श विद्यार्थी बन पायेंगे।

मैं अपनी कक्षा का मानीटर हूँ। मुझे कक्षा पर नियंत्रण करना आता है। अध्यापक की अनुपस्थिति में मैं बच्चों से काम करवाता हूँ। अपने घर मैं अपने भाइयों को पढ़ाता हूँ और पास पड़ोस के बच्चों की सहायता करता हूँ। मुझे आशा है कि भगवान मेरी इस अभिलाषा को पूरा करेंगे।

# meri abhilasha nibandh

ध्यान दें– प्रिय दर्शकों Meri Abhilasha Essay in Hindi article आपको अच्छा लगा तो जरूर शेयर करे

Read Also-

मेरे जीवन का लक्ष्य पर निबंध

Leave a Comment

Your email address will not be published.