Upsarg (prefix) in Hindi | उपसर्ग

उपसर्ग (prefix) की परिभाषा ( Definition ) और उसके भेद

जो शब्दांश शब्दों के आरंभ में जुड़कर उनके अर्थ में परिवर्तन कर देते हैं, उन्हें उपसर्ग ( Upsarg ) कहते हैं; जैसे कर्म जिसका अर्थ है, काम करना। ‘कु’ उपसर्ग जोड़ने से ‘कुकर्म’ शब्द बन जाता है जिसका अर्थ है बुरा काम। उपसर्ग के प्रयोग से अर्थ विपरीत भी हो जाता है; जैसे ‘देखा’ शब्द ‘अन’ उपसर्ग लगाने से अनदेखा’ बन जाता है जिसका अर्थ है ‘ने देखा।

हिंदी भाषा में संस्कृत और उर्दू भाषा के शब्दों का भी प्रयोग होता है। इसलिए हिंदी में संस्कृत एवं उर्दू भाषा के उपत प्रयोग होता है। इसलिए इनका अध्ययन भी हमारे लिए उपयोगी होगा।

List of Upsarg ( उपसर्ग )

(1) संस्कृत के उपसर्ग ( Sanskrit upsarg in Hindi )
(2) हिंदी के उपसर्ग ( Hindi Upsarg )
(3) उर्दू के उपसर्ग ( Urdu Upsarg in Hindi )
(4) अंग्रेज़ी के उपसर्ग ( English Upsarg in Hindi )
(5) संस्कृत के कुछ अव्यय जो उपसर्ग की भाँति प्रयुक्त होते हैं ( Avyay in hindi )

(1) संस्कृत के उपसर्ग ( Sanskrit upsarg in Hindi )-

उपसर्ग अर्थ उदाहरण
अति अधिक, उस पार, ऊपर अत्यन्त, अत्याचार, अतिशय, अतिरिक्त,
अत्युक्रम आदि।
अधि समीपता, प्रधानता, ऊँचाई, श्रेष्ठ अध्यक्ष, अधिपति, अधिकारी, अधिकरण आदि।
अनु क्रम, पश्चात्, समानता अनुक्रम, अनुशीलन, अनुचार, अनुगामी, अनुसार,
अनुकरण, अनुवाद, अनुशासन आदि।
अप अभाव, अधूरा, हीनता, बुरा अपवाद, अपव्यय, अपकर्ष, अपहरण, अपशब्द,
अपयश, अपमान आदि।
अभि समीपता, अधिकता और इच्छा प्रकट करना अभियान, अभिभावक, अभिशाप, अभिप्राय, अभियोग,
अभिनव, अभ्युदय (अभि + उदय), अभिमान,
अभिलाषा आदि।
सीमा, समेत, कमी, विपरीत आरक्त, आकाश, आजन्म. आरंभ, आकर्षण, आक्रमण, आदान, आचरण, आजीवन, आरोहण,
आमुख, आमरण आदि।
उत्  उच्चता, उत्कर्ष, श्रेष्ठता आदि उत्साह, उत्कर्ष, उत्तम, उत्पन्न, उत्पल, उत्पत्ति, उद्देश्य,
उन्नति, उत्कंठा।
उदूl ऊपर, उत्कर्ष, श्रेष्ठ उदार, उद्गम, उद्धत, उद्यम, उद्घाटन आदि।
अव  हीनता, अनादर, अवस्था, पतन अवगत, अवनत, अवलोकन, अवतार, अवशेष,
अवगुण, अवज्ञा, अवरोहण आदि।
उप सहाय, सुदृढ़, गौण, हीनता उपदेश, उपकार, उपमंत्री, उपनिवेश, उपनाम, उपवन,
उपस्थित, उपभेद आदि।
दुः दुस् दुर्दुस् बुरा, कठिन, दृष्ट-हीन दुरवस्था, दुर्दशा, दुर्लभ, दुर्जन, दुराचार (दु + आचार), दुष्कर्म, दुस्साहस, दुर्गन आदि।
नि भीतर, नीचे, बाहर निकृष्ट, निपात, नियुक्त, निवास, निमग्न, निवारण निषेध, निर्मल, निर्लज्ज, निर्जन, निर्गुज, निर्धन आदि।
निस् बाहर, निषेध निस्तेज, निःशंक, निस्सन्देह, निष्कलंक आदि।
परा अनादर, नाश, विपरीत, पीछे, उलटा पराजय, परिवर्तन, पराधीन, पराभव आदि।
परि अतिशय चारों ओर परिपूर्ण, परिच्छेद, परिवर्तन, परिक्रम आदि।
प्र यज्ञ, गति, उत्कर्ष, अतिशय, आगे प्रताप, प्रयत्न, प्रबल, प्रसिद्ध, प्रसन्न, प्रमाण, प्रयोग। प्रचार, प्रस्थान, प्रगति आदि।
प्रतिl विरोध, हर एक, सामने प्रतिपल, प्रत्येक, प्रतिदिन, प्रतिशोध, प्रतिकूल आदि।
वि हीनता, भिन्नता, विशेषता विशेष, विज्ञ, वियोग, विमुख, विदेश, विभाग, विज्ञान
आदि।
सम् सम् पूर्णता, संयोग, अच्छा संकल्प, संग्रह, संयोग, संग्रह, सम्पत्ति, संहार आदि।
सु सुन्दर, सहन, अच्छा, सरल सुयश, सुकर्म, सुगम, सुकन्या, सुपुत्र आदि।

 

(2) हिंदी के उपसर्ग ( Hindi Upsarg )-हिंदी के सामान्य उपसर्ग निम्नलिखित हैं-

उपसर्ग अर्थ उदाहरण
निषेध अचेत, अमोल, अजान, अथाह, असीम, अगाध आदि।
अन् नहीं अनमोल, अनपढ़, अनजान, अनदेखा, अनबन आदि।
अध आधा अधजला, अधमरा, अधपका, आदि।
उन एक क्रम उनसठ, उनचास, उनहत्तर, आदि।
हीनता, निषेध औघट, औगुन, औसर आदि।
कु बुराई,नीचता कुचाल, कुपात्र, कुढंग आदि।
दु बुरा,हीन दुबला, दुकान आदि।
नि अभाव निडर, निठल्ला, निकम्मा, निगोड़ा आदि।
बिन निषेध बिनदेखा, बिनव्याहा, बिनचखा आदि।
भर पूरा, ठीक भरपूर, भरसक, भरमार, भरपेट आदि।
अच्छा सपूत, सजग आदि।
सु अच्छा सुफल, सुपात्र, सुधार, सुडौल आदि।
बुरा कपूत आदि।
अभाव नपूता, नपूती, नदीश आदि।
पर आगे, अधिक परदादा, परनाना, परपोता आदि।

 

(3) उर्दू / Urdu Upsarg in Hindi (अरबी-फ़ारसी) के उपसर्ग-

उपसर्ग अर्थ उदाहरण
कम थोड़ा,हीन अकमसिन, कमजोर, कमबख्त, कमहिम्मत आदि।
खुश प्रसन्न,अच्छा खुशदिल, खुशहाल, खुशबू, खुशखबरी आदि।
अल निश्चित अलबता आदि।
गैर निषेध गैर-कानूनी, गैर-सरकारी, गैर-वक्त आदि।
बद बुरा बदनाम, बदतमीज, बदमिजाज, बदबू, बदकार आदि।
 ऐन ठीक ऐनवक्त, ऐनमौका आदि।
बे अभाव बेईमान, बेवकूफ, बेइज्जत आदि।
सर मुख्य सरताज, सरकार, सरहद आदि।
ना अभाव नामुमकिन, नापसंद, नाराज, नालायक, नाचीज, नादान आदि।
अनुसार बनाम, बदौलत इत्यादि।
बर ऊपर बरदाशत, बराबर आदि।
बा साथ बाकायदा, बाइज्जत आदि।
बिल साथ बिल्कुल आदि।
बिना रहित बिना कसूर, बिना काम आदि।
ला बिना लाजवाब, लाचार, लापरवाह, लापता आदि।
हम बराबर हमउम्र, हमदर्द, हमराज, हमवतन आदि।
 हर प्रत्येक हर रोज, हर दिन, हर साल, हर पल आदि।
बिला बगैर, बिना बिलाकसूर, बिलालिहाज़।

 

(4) अंग्रेज़ी के उपसर्ग ( English Upsarg in Hindi )-

उपसर्ग अर्थ उदाहरण
सब अधीन, नीचे सबजज, सब कमेटी।
डिप्टी सहायक डिप्टी मिनिस्टर, डिप्टी रजिस्ट्रार।
हाफ आधा हाफटिकट, हाफपेंट।
चीफ मुख्य चीफ ऑफ स्टाफ, चीफमिनिस्टर ।
वाइस उप वाइस चांसलर, वाइस प्रिंसिपल ।
जनरल मुख्य जनरल मैनेजर,जनरल सैक्रेटरी।
हेड मुख्य हेडमास्टर हेड क्लर्क हेडोफ़्फ़िस।

 

(5) संस्कृत के कुछ अव्यय ( Avyay in hindi ) जो उपसर्ग की भाँति प्रयुक्त होते हैं, जैसे-

अव्यय अर्थ उदाहरण
अधः नीचे पतन, अधोगति, अधोलिखित ।
अलम् बहुत,बस अलंकार, अलंकृत, अलंकरण।
अंतः भीतर अंतर्मन, अंतःकाल, अंतरात्मा, अंतर्धान।
चिर् बहुत देर चिरायु, चिरकाल, चिरपरिचित, चिरस्थायी।
तिरः निषेध तिरोभाव, तिरोहित, तिरस्कार।
पुरा पुराना, पहले पुरातन, पुरातत्व।
पुनः फिर पुनरामगमन, पुनर्जन्म, पुनर्मिलन।
प्राक् पहले प्रागैतिहासिक, प्राक्कथन।
बहिः बाहर बहिर्मुख, बहिर्गमन, बहिष्कार, बहिरंग।
सह साथ सहानुभूति, सहपाठी, सहकारी, सहयोग।

Paryayvachi Shabd in Hindi

# उपसर्ग ( Upsarg examples / prefix in Hindi )

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *