माँ पर निबंध- Essay on Mother in Hindi

In this article, we are providing information about Mother in Hindi- Essay on Mother in Hindi. माँ पर निबंध| My Mother Essay in Hindi, Maa Par Nibandh.

माँ पर निबंध- Essay on Mother in Hindi

माँ वो होती है जो हमें जन्म देती है और उसके लिए वह असहनीय पीड़ा को भी सहन करती है। दुनिया में माँ को भगवान का रूप कहा जाता है। वह ममता और त्याग की मूर्त होती है। वह अपने सारे सुख सुविधाएँ संतान के लिए त्याग देती है और सारी जिंदगी उसकी खुशियौं और सुविधाओं को पूरा करने में लगी रहती है। माँ जितना प्यार हमें पूरे दुनिया में कोई भी नहीं कर सकता है क्योंकि उसका प्यार निस्वार्थ होता है।

माँ की गोद में बच्चा खुद को सबसे ज्यादा सुरक्षित महसूस करता है, वह बच्चों को हर मुसीबत से बचाकर रखती है। माँ अपने बच्चे की मुस्कुराहट देखकर अपने सारे गम भूल जाती है। माँ हर बच्चे की प्रारंभिक गुरू होती है,उसी से बच्चा अच्छे बुरे का फर्क पहचानता है। बच्चे में आधे से ज्यादा संस्कार माँ से ही आते है। माँ हमारे लिए अन्नदाता भी होती है जब भी हमारा जो भी खाने का मन होता है वह वही बनाती है। उसके हाथ का खाना सबसे स्वादिष्ट होता है तभी तो घर से दुर रहने पर हम उसी को सबसे ज्यादा याद करते है। माँ हमारी सबसे अच्छी दोस्त होती है जिससे हम निसंकोच अपनी कोई भी बात कर सकते है। माँ हमारी डॉक्टर, टीचर, वकील सभी होती है।

माँ कभी भी अपने बच्चों में भेदभाव नहीं करती है वह सभी से समान रूप से प्यार करती है। वह रात रात भर जागकर अपनी संतान का ख्याल रखती है। माँ को घर में बहुत ही समान दिया जाता है। माँ के बिना कोई भी घर नहीं होता। बेटियों के लिए तो माँ के बिना मायके का कोई अस्तित्व ही नहीं होता है। बेटे माँ के लाडले होते है तो बेटियाँ माँ की छवि होती है। माँ अपनी हर संभव कोशिश करती है कि वह अपने बच्चों को बेहतरीन परवरिश दे। आज के युग में नारी बाहर जाकर नौकरी भी करती है और अपने घर परिवार और बच्चों को भी अच्छे से संभालती है। जिस माँ ने उन्हें नौ महीने अपने में पेट में रखा वहीं आज उनकी कदर नहीं करते उन्हें वृद्धाश्रम में छोड़ देते है। माँ जिंदगी में एक ही बार मिलती है उसकी कदर करना सीखो। अगर माँ खुश नहीं होगी तो भगवान भी कभी खुश नहीं होंगे। माँ के प्यार के लिए तो भगवान भी तरसते है तभी तो वो अनेकों बार मनुष्य जन्म लेते है। माँ के पैरों में स्वर्ग होता है और उसकी जान अपने बच्चों में बसती है।

#Meri Maa Essay in Hindi #Mother Essay in Hindi

Mother Teresa Essay in Hindi- मदर टेरेसा पर निबंध

ध्यान दें– प्रिय दर्शकों Essay on Mother in Hindi आपको अच्छा लगा तो जरूर शेयर करे

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *