आर्यभट के बारे में जानकारी- Information About Aryabhatta in Hindi

In this article, we are providing information About Aryabhatta in Hindi – Aryabhatta Ke Baare Me Jankari Hindi Language mein. हिंदी में आर्यभट के बारे में जानकारी, Short Essay on Aryabhatta in Hindi.

आर्यभट के बारे में जानकारी- Information About Aryabhatta in Hindi

1. आर्यभट एक महान खगोलीक विद्वान और भारत के पहले गणितज्ञ थे।

2. आर्यभट का जन्म 476 ईसा पूर्व पटना के एक गाँव कुसमपूर में हुआ था।

3. आर्यभट ने 12 खोज की थी जिसमें से उन्हें शुन्य की खोज के लिए लोगों के द्वारा जाना जाता है।

4. आर्यभट ने ही बताया था कि पृथ्वी सूर्य के चारों तरफ 1 चक्कर लगाने में 365 दिन 6 घंटे 12 मिनट और 30 सैकेंड का समय लेती है।

5. आर्यभट ने ही सूर्य ग्रहण और चंद्र गृहण के असल कारणों की व्याख्या की थी।

6. आर्यभट ने ही बताया था कि चंद्रमा सूर्य से प्रकाश लेकर चमकता है।

7. भारत के पहले उपग्रह का नाम भी आर्यभट था जो कि आर्यभट के सम्मान में रखा गया था।

8. आर्यभट ने ही बताया था कि पृथ्वी सूर्य के चारों तरफ अपनी धूरी में घुमती है।

9. आर्यभट ने एक ग्रंथ लिखा था जो कि गणित का ग्रंथ था और उसमें 121 श्लोक है जो कि संस्कृत भाषा में लिखे हुए हैं।

10. आर्यभट के ग्रंथ को 100 साल बाद गणितज्ञ भास्कर द्वारा आर्यभटी नाम दिया गया था।

11. आर्यभट ने त्रिकोणमिति (trignometry) के sine और cosine की थी जिसे उन्होंने ज्या और कोज्या नाम दिया था।

12. आर्यभट को आर्यभट प्रथम और आर्यभट एल्डर के नाम से भी जाना जाता है।

13. आर्यभट ने बीजगणित की खोज की थी इसलिए इनको बीजगणित का जनक भी कहा जाता है।

14. आर्यभट की मृत्यु 550 ईसा पूर्व हुई थी।

# Aryabhatta information in hindi # Aryabhatta essay in Hindi # Aryabhatta ki Jankari # Lines on Aryabhatta in Hindi

ध्यान दें– प्रिय दर्शकों Information About Aryabhatta in Hindi ( Article ) आपको अच्छा लगा तो जरूर शेयर करे

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *