गुलबहार का फूल के बारे में जानकारी- Daisy Flower Information in Hindi

In this article, we are providing Daisy Flower Information in Hindi – Gulbahar Phool Ke Baare Me Jankari Hindi Language mein. गुलबहार का फूल के बारे में जानकारी, Short Essay on Daisy Flower in Hindi.

गुलबहार का फूल के बारे में जानकारी- Daisy Flower Information in Hindi

1. गुलबहार फूल बहुत ही खुबसूरत होते हैं और पूरे विश्व में इनकी 4000 प्रजातियां पाई जाती है।

2. गुलबहार का फूल अंटार्कटिका को छोड़कर पूरे विश्व में मिलता है और यह सूर्योदय के समय ही खिलता है।

3. गुलबहार का फूल दिन में ही खिलता है और शाम को मुरझा जाता है और यह दिखने में आंख जैसा होता है जिस कारण इसे दिन की आंख भी कहा जाता है।

4. गुलबहार के फूल पीले और सफेद रंग में ही मिलते हैं।

5. गुलबहार के फूल को एक फूल में दो फूल भी कहा जाता है क्योंकि इसके एक फूल पर दो फूल लगते हैं।

6. गुलबहार का पौधा 3-5 फीट तक बढ़ता है और इसकी पंखुड़ियां पतली और कम चौड़ाई वाली होती है।

7. गुलबहार के फूल की पत्तियाँ हरे रंग की होती है जो इसके तने पर लिपटा हुआ है।

8. गुलबहार का पौधा केवल 2 वर्ष तक जीवित रहता है।

9. गुलबहार के पत्तों और पंखुड़ियों का खाने में भी प्रयोग किया जाता है।

10. तितलियाँ , कीड़े मकोड़े आदि गुलबहार की तरफ आकर्षित होते हैं और नेक्टर से रस को चूसते है और उसके परांगण मे सहायता करते है।

11. गुलबहार फूल के विभिन्न रंग भावार्थ को दर्शाते हैं। बैंगनी रंग सम्मान , पीला रंग दोस्ती और सफेद रंग नम्रता का प्रतीक है।

12. गुलबहार फूल की चमक और सुगंध सबको अपनी तरफ आकर्षित कर लेती है।

13. गुलबहार के फूलों के पनपने के लिए सूर्य की रोशनी का होना आवश्यक है।

14.गुलबहार के फूल का केंद्र भाग पीले रंग का होता है जिसे फ्लोरल डिस्क कहा जाता है।

ध्यान दें– प्रिय दर्शकों Jasmine Flower Information in Hindi ( Article ) आपको अच्छा लगा तो जरूर शेयर करे

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *